देखे कब से शुरू हो रहा है सावन का महीना? शिव की पूजा का महत्व

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

हिंदू धर्म में भगवान शिव को समर्पित श्रावण मासयानि सावन महीने का बहुत महत्व है। मान्यता है कि इस दौरान भगवान शिव धरती का भ्रमण करते हैं। कुवांरी कन्याएं व महिलाएं मनोकामना पूर्ति के लिए सावन महीने में व्रत भी करती हैं। इसके अलावा कांवड यात्रा भी इसी महीने आयोजित की जाती है। भक्तजन इंतजार में है कि सावन का महीना कब से शुरू हो रहा है।

कब से शुरू हो रहा है सावन का महीना?

पंचांग के अनुसार के अनुसार, 25 जून, 2021 से आषाढ़ मास शुरू हो चुका है, जिसका समापन 24 जुलाई 2021 को होगा। इसके बाद 25 जुलाई, 2021 से सावन का महीना शुरू हो जाएगा, जिसका समापन 22 अगस्त, 2021 को रक्षाबंधन त्यौहार के साथ होगा।

सावन सोमवार कब से है?

हिंदू धर्म में सावन महीने के सभी सोमवार का खास महत्व है क्योंकि इस दौरान भक्तजन भगवान शिव के उपवास रखते हैं। ऐसा माना जाता है कि सावन महीने के व्रत 16 सोमवार के बराबर होते हैं, जिससे व्यक्ति की हर मनोकामना पूर्ण होती है।

सावन का पहला सोमवार: 26 जुलाई, 2021

सावन का दूसरा सोमवार: 02 अगस्त, 2021

सावन का तीसरा सोमवार: 09 अगस्त, 2021

सावन का चौथा सोमवार: 16 अगस्त, 2021

सावन में शिव की पूजा का महत्व

मान्यता है कि सावन महीने में भगवान शिव माता पार्वती के साथ धरती पर भ्रमण करते हैं और अपने भक्तों को आशीर्वाद देते है। इस माह में व्रत रखने से जीवन की सभी परेशानियां दूर होती हैं और सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। साथ ही इससे वैवाहिक जीवन सुखद होता है और पति-पत्नी के रिश्ते में मजबूती आती है।

पूजा के दौरान ध्यान रखें ये बातें-

. यह भगवान शिव का प्रिय है इसलिए व्रत नहीं रखा तो भी भोलेनाथ को जल व दूध जरूर जलाएं।

. शिवलिंग पर जल के साथ बेल के पत्ते जरूर चढ़ाए।

. केतकी के फूलों का इस्तेमाल भगवान की पूजा में ना करें क्योंकि इससे भोलेनाथ नाराज हो जाते हैं।

. कभी भी भगवान शिव को तुलसी, नारियल पानी भी ना चढ़ाए।

. शिवलिंग पर हमेशा कांस्य और पीतल के बर्तन से जल अर्पित करें।