कम उम्र में सफेद बालों के लिए करें ये उपाय

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क  

आपने अक्सर सुना होगा उम्र के साथ शरीर में कई बदलाव आते हैं। वहीं उम्र अधिक होने से बाल भी सफेद होने लगते हैं। मगर आज के समय में सफेद बालों की समस्या कम उम्र की लड़कियों में भी दिखाई देने लगी है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, समय से पहले बालों का रंग सफेद होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। चलिए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से...

समय व उम्र से पहले बाल सफेद होने के कारण 

 . वैज्ञानिक कारण

हमारे बालों का रंग मेलानोसाइट्स नामक कोशिकाओं के बनने से होता है। वहीं इसका रंग यूमेलानिन और फोमेलैनिन के अनुपात पर ही निर्भर करता है। असल में, ये दो तरह के मेलेनिन आपस में मिलने से अलग-अलग रंग निर्मित करते हैं। इसके कारण बालों का रंग बदलने लगता है। उम्र के बढ़ने से मेलेनिन की मात्रा में कमी आने लगती है और बालों का रंग सफेद होने लगता है। 

. अन्य कारण 

 - धूम्रपान व कैफीन का अधिक सेवन 

भारी मात्रा में धूम्रपान, अल्कोहल व कैफीन का सेवन करने से बालों को पूरा पोषण नहीं मिलता है। ऐसे में बालों के सफेद होने की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में इसका सेवन करने से बचें।

- विटामिन बी12 की कमी

खाने में विटामिन बी 12 की कमी होने से भी समय से पहले बाल सफेद हो सकते हैं। ऐसे में इसके कमी को पूरा करने के लिे डेली डाइट में डेली प्रोडक्ट्स, मछली, केला, सी फूड, सूखे मेवे, तिल आदि का सेवन करें। 

- तनाव

अधिक तनाव लेने से सेहत के साथ बालों पर भी गहरा व बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे बालों के समय से पहले सफेद होने की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। तनाव के कारण दिमाग में कोर्टिसोल और ऐंड्रेनालाइन नामक हॉर्मोन्स का उत्पादन होना शुरु हो जाता है। ये हॉर्मोन्स शरीर में मेलानोसाइट्स पर बुरी असर डालते है और उसका स्तर कम करने लगते हैं। ऐसे में बाल तेजी से सफेद होने लगते हैं। 

- थायरॉइड की कमी के कारण

शरीर में थायरॉइड ग्लैंड्स में हॉर्मोन का उत्पादन कम होने से भी बाल सफेद होने की समस्या होती है।

. बालों का सफेद होने से ऐसे करें बचाव 

 - तनाव लें कम 

अधिक सोचने व तनाव लेने से सेहत के साथ बालों को भी नुकसान होता है। ऐसे में तनाव कम करने के लिए खुश रहने की कोशिश करें। इसके लिए आप गाने सुनना, बुक पढ़ना, दोस्तों से बातें करना आदि काम करती है। इसके अलावा आप डांस, सिंगिग, पेंटिंग या किसी अन्य एक्टिविटी की क्लास ज्वाइन कर सकती है। 

- तेल मसाज 

हफ्ते में 2-3 बार बालों की नारियल, बादाम या किसी भी नेचुरल तेल से मसाज करें। इससे स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होगा। बालों को नमी और सही मात्रा में लॉरिक एसिड मिलेगा। बाल जड़ों से पोषित होंगे। ऐसे में बालों के सफेद होने से बचाव रहेगा। इसके साथ ही आपको लंबे, घने व मुलायम बाल मिलेंगे। 

- भरपूर मात्रा में पानी पीएं

जैसे की हम पहले ही बता चुके हैं कि अल्कोहल, कैफीन आदि का सेवन बालों का प्राकृतिक रंग खराब कर देता है। ऐसे में इसका कम से कम सेवन करें। इसकी जगह पर खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए जरूरत अनुसार पानी का सेवन करें। आप चाहे तो डेली डाइट में जूस, पानी वाले फल व सब्जियां भी शामिल कर सकती है। 

- हैल्दी डाइट लें 

बालों को हैल्दी रखने के लिए ऑयली व मसालेदार भोजन खाने से परहेज रखें। अपनी डेली डाइट में पोषक तत्व व एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर चीेजें शामिल करें। इससे आपका शारीरिक व मानसिक विकास बेहतर होने के साथ बालों संबंधी समस्याओं से बचाव रहेगा। 

- रोजाना 7-8 घंटे की लें नींद 

नींद पूरी होने से शरीर रिलैक्स होता है। इसके साथ इससे कोशिकाओं को फिर से जीवंत होने में मदद मिलती है। ऐसे में बालों का सफेद होने से बचाव रहता है। 

posted by - दीपिका पाठक