स्थानान्तरण के विरोध में स्वास्थ्य लिपिकों ने कार्य बहिष्कार कर धरना दिया

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

सहारनपुर। यूपी मेडिकल एंड पब्लिक हेल्थ मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के आह्वान पर जनपद शाखा सहारनपुर द्वारा शासनादेश के विपरीत उत्तर प्रदेश के 75 जनपदों के मिनिस्टीरियल स्वास्थ्य कर्मियों के 2817 लिपिकों के सापेक्ष 1772 स्वास्थ्य लिपिकों के निदेशक प्रशासन द्वारा स्थानांतरण किए जाने पर प्रदेश के स्वास्थ्य लिपिकों ने आज से राजकीय कार्यों का बहिष्कार कर राजकीय कार्याे से विरत रहने का निर्णय लिया है । 

जिसके क्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय टीवी हॉस्पिटल एसबीआई जिला चिकित्सालय अपर निदेशक कार्यालय महिला चिकित्सालय समेत जनपद भर के स्वास्थ्य लिपिकों ने राजकीय कार्याे से विरत रहकर संघ भवन पर धरना देकर निदेशक प्रशासन के खिलाफ गंभीर रोष व्यक्त कर स्थानांतरण को तुरंत रोके जाने की मांग की है।

 एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष देव कुमार ने कहा कि निदेशक प्रशासन के द्वारा शासनादेश में उल्लेखित 20ः से अधिक कार्मिक ओके शासन की मंशा के विपरीत स्थानांतरण किए हैं जबकि उत्तर प्रदेश शासन के द्वारा समस्त संवर्ग के सामान्य स्थानांतरण से मुक्त रखे जाने के निर्देश दिए थे परंतु निदेशक प्रशासन राजा गणपति आर ने शासनादेश को ताक पर रखकर प्रशासनिक अनियमितता के साथ-साथ महिलाओं कर्मियों के भी 500 किलोमीटर से लेकर 12 सौ किलोमीटर की दूरी पर स्थानांतरित कर दिया गया है जिसे किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।

महानिदेशालय अधिकारियों ने मनमाने तरीके से शासनादेश के विपरीत 20  प्रतिशत के स्थान पर 61 प्रतिशत कर्मचारियों के स्थानांतरण के हैं जबकि कोरोना से सी वैश्विक महामारी की तीसरी लहर स्वास्थ्य कर्मियों के सिर पर है उन्होंने समस्त स्थानांतरण को अविलंब निरस्त करने की मांग की है धरने को पारस कुमार सुंदर पाल रविंद्र कुमार ने संबोधित करते हुए कहा कि निदेशक प्रशासन स्तर से मान्यता प्राप्त संघ के पदाधिकारियों के के के स्थानांतरण शासनादेश एवं नियमों के विपरीत है ।

उत्तर प्रदेश फेडरेशन ऑफ मिनिस्टीरियल सर्विस के जिला अध्यक्ष मनदीप सिंह ने कहा कि निदेशक प्रशासन द्वारा जानबूझकर दांपत्य नीति के अंतर्गत विकलांग कर्मचारियों असाध्य रोग से ग्रसित कर्मचारियों तथा सेवानिवृत्ति में 2 वर्ष से कम अवधि वाले कर्मचारियों का किया का स्थानांतरण निदेशक प्रशासन की हिटलर शाही का प्रमाण है उन्होंने कहा कि स्थानांतरण निरस्त होने तक जनपद भर में आंदोलन चला जाएगा ।

आंदोलन के प्रथम दिन विमल कांत बीनू लक्ष्मण सिंह विशाल चौधरी पारस सिंह अनूप कुमार अश्विनी शर्मा यश लांबा आर एस तिवारी अरविंद शर्मा राशिद खान पंकज कुमार अली खान शशि सैनी अनिल कुमार सुभाष चंद्र ज्योति दीपमाला शर्मा दीप्ति अर्चना भटनागर कामिनी संगीता त्यागी भावना रावत फरद इकबाल राज नासा शिवराम प्रदीप कुमार सुधीर कुमार गोपाल बस आदि ने भाग लिया बैठक का संचालन एसोसिएशन की जिला मंत्री रूबी ममता ने किया। बैठक की अध्यक्षता आर एस तिवारी प्रधान सहायक ने की शशि कुमार सैनी ने किया।