देहरादून के आसपास के इलाकों में मध्यम बारिश की संभावना, बद्रीनाथ-रुद्रप्रयाग हाईवे मलबा आने से बंद

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क  

देहरादून : मौसम विभाग ने उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों उत्तरकाशी, पौड़ी, चमोली, और नैनीताल में अगले 24 घंटों में तेज बारिश और राजधानी देहरादून व आसपास के इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है। हालांकि शुक्रवार को फिलहाल दून में मौसम साफ है। वहीं श्रीनगर के चमधार में बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग शुक्रवार को फिर अवरुद्ध हो गया है। बता दें कि गुरुवार को भी यहां मार्ग 10 घंटे बाधित रहा था। रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे भी गंगतल में मलबा आने से बंद है। चंपावत-टनकपुर हाईवे शुक्रवार सुबह 9:30 बजे यातायात के लिए खोल दिया गया है।

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने 25-26 जुलाई को उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में बहुत भारी बारिश होने की भविष्यवाणी की है। आईएमडी ने गुरुवार को ट्वीट कर बताया कि 22-23 जुलाई को  उत्तराखंड में छिटपुट वर्षा जारी रहेगी, लेकिन शनिवार और रविवार को इन राज्यों के कई क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। पहाड़ों में बारिश आफत बनकर बरस रही है। बारिश के बाद जगह-जगह मलबा आने से बदरीनाथ राजमार्ग सहित 163 मोटर मार्ग बंद हो गए हैं।

राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र के मुताबिक बंद मार्गों को खोलने का प्रयास किया जा रहा है। उधर, मौसम विभाग ने 23 से 25 जुलाई तक भारी से बहुत भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। ऐसे में आने वाला समय और चुनौतीपूर्ण है। 

चमोली जनपद में 20 संपर्क मार्ग अभी भी बंद हैं। उत्तरकाशी जिले में उत्तरकाशी-लंबगांव-श्रीनगर मोटर मार्ग साड़ा के पास पुल क्षतिग्रस्त होने से बंद है। जिले में इसके अलावा 16 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं।

देहरादून में एक जिला, एक राज्य एवं 16 ग्रामीण मार्ग, रुद्रप्रयाग में पांच ग्रामीण मार्ग, पौड़ी में 24, टिहरी में सात मोटर मार्ग बंद हैं। जबकि बागेश्वर में दस, नैनीताल में तीन राज्य एवं आठ ग्रामीण मोटर मार्ग, अल्मोड़ा में दस ग्रामीण मोटर मार्ग, अल्मोड़ा में एक राज्य और पांच ग्रामीण, पिथौरागढ़ में पांच बोर्डर व 11 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं।